Search Engine Optimization in Hindi

Learn SEO in Hindi

Search Engine Optimization in Hindi, यह शीर्षक देखकर आपको यह पता चल गया होगा की आज हम SEO के बारे में जानने जा रहे हैं। SEO आज एक बहूत महत्वपूर्ण विषय है क्योकि कोई भी कंपनी जो अपनी वैबसाइट को किसी भी सर्च इंजन के पहले पन्ने पर लाना चाहती है SEO का प्रयोग करती है। तो दोस्तों आज हम इसी विषय को यहाँ समझने वाले हैं।

इस पोस्ट में हम जानेंगे  –

  1. SEO क्या है?
  2. सर्च इंजन परिणाम पृष्ठ पढ़ना
  3. SEO का उद्देश्य सेट करना
  4. SEO आपके व्यापार को कैसे प्रभावित करता है?

1. SEO kya hai?

SEO का पूरा नाम Search Engine Optimization होता है। साधारण भाषा में कहें तो SEO एक लगातार चलने वाला ऐसा प्रोसैस है जिससे आप अपनी वैबसाइट को किसी भी सर्च इंजिन के रिज़ल्ट में पहले पन्ने पर ला सके। यदि सर्च इंजिन रिज़ल्ट के पहले पन्ने पर आपकी वैबसाइट का नाम आता है तो आपकी वैबसाइट पर ज्यादा internet user आएंगे और जीतने ज्यादा User आपकी वैबसाइट पर आएंगे आपको उतना ही फायदा होगा।

अगर आप सोच रहें है कैसे तो आप इस उदाहरण से समझ सकते है – मान लीजिये आप की एक electronic products के दुकान है और आप अपनी एक वैबसाइट के माध्यम से अपने products को बेचना चाहते है। तो product खरीदने के लिए लोगो को आपकी वैबसाइट के बारे में पता भी होना चाहिए। अगर किसी को यह पता ही नहीं है की कोई ऐसी वैबसाइट है जिसपर हम जाकर electronic product खरीद सकते हैं और वो भी हमारे क्षेत्र में है तो आप बताइये की कोई आपकी वैबसाइट पर कैसे आएगा। सर्च इंजिन इस क्षेत्र में आपकी मदद कर सकता है अगर आपकी वैबसाइट पर सही SEO implement है।

जब भी कोई किसी प्रॉडक्ट को कोई व्यक्ति सर्च करें और वो आपके यहाँ उपलब्ध हो, तो अगर सर्च इंजन आपकी साइट दिखाये तो सोचिए लोग आपकी साइट पर आकार उसे खरीदेंगे या नहीं। इसका उत्तर आपको पता है।

सर्च इंजन किसी भी चीज़ को पहले पन्ने पर दिखाने के लिए कम से कम तो चीजों को देखता है वो हैं –

Learn SEO in Hindi
Learn SEO in Hindi
  • Relevant
  • Authoritative

a. Relevant:

जब हम किसी चीज़ को सर्च इंजन पर ढूनते हैं तो वो सबसे पहले यह देखता है की कौन कौन सी वैबसाइट relevant है जिसमें खोजा गया content उपलब्ध है और इस खोज के लिए इससे पहले user किन वैबसाइट पर गया था। इस सूचना के आधार पर सर्च इंजिन वैबसाइट की लिस्ट user को दिखाता है।

Relevancy को समझने के लिए हम एक उदाहरण लेते हैं जैसे मान लीजिये कि कोई electronic shop in Barabanki सर्च करता है तो सर्च इंजन उसे electronic shop in Barabanki से संबन्धित सभी वैबसाइट की लिस्ट दिखाएगा ।

कोई भी सर्च इंजिन किसी भी वैबसाइट की लिस्ट दिखने के लिए एक algorithm का प्रयोग करता है। Algorithm को आप एक rule की तरह मान सकते हैं जो किसी भी वैबसाइट को सर्च इंजन पर दिखने के लिए प्रयोग होता है। इस Algorithm के माध्यम से आप यह कह सकते है की सर्च इंजन  के पास अपना एक दिमाग आ जाता है जिससे वो यह तय कर लेता है की कौन सी website relevant है और कौन सी नहीं है।

मान लीजिये किसी ने सर्च किया कि religious place in Barabanki तो सर्च इंजन आपको उन वैबसाइट कि लिस्ट दिखाएगा जो मंदिर, मस्जिद, चर्च, गुरुद्वारा या किसी अन्य धार्मिक स्थल से संबंध रखती होंगी।

b. Authoritative

सर्च इंजन जो दूसरी महत्वपूर्ण चीज़ देखता है वो है Authoritative। Authoritative का मतलब आप ऐसे समझ सकते हैं ही जैसे आप किसी वैबसाइट से अपने product को बेचने का काम करते हैं तो उस वैबसाइट पर किस प्रकार के कमेंट आते हैं, लोग आपके प्रॉडक्ट के बारे में क्या सुझाव सखते हैं और आपकी वैबसाइट के बारे में उनका क्या सुझाव है अगर यह सब आपके लिए अच्छा सुझाव रखते है तो आपकी वैबसाइट की authority बढ़ जाती है। इसमें एक महत्वपूर्ण तथ्य यह भी है कि यदि कुछ लोग आपके product या आपकी वैबसाइट के लिए नकारात्मक विचार रखते हैं तो उनसे कोई प्रभाव आपकी वैबसाइट पर नहीं पड़ता।

अगर आपकी वैबसाइट का लिंक दूसरी वैबसाइट से आ रहा है तो भी आपकी Authority बढ़ती है लेकिन जिस वैबसाइट से आपका लिंक आए वो वैबसाइट कि मार्केट में reputation अच्छी होनी चाहिए यह नहीं कि किसी भी वैबसाइट से आप अपनी साइट लिंक करा कर आप अपनी वैबसाइट कि authority बढ़ा सकते हैं। जैसे अगर कोई एक महीने पहले बनी वैबसाइट आपकी वैबसाइट को लिंक करे तो इससे सर्च इंजन पर आपकी Authority को लेकर कोई भी फर्क नहीं पड़ेगा। दूसरी वैबसाइट से आने वाले इन लिंक को हम Backlink के नाम से जानते हैं।

Learn SEO in Hindi
Learn SEO in Hindi

2. सर्च इंजन परिणाम पृष्ठ पढ़ना(SERPs)

सर्च इंजन के रिज़ल्ट को पढ़ना भी एक आर्ट है सर्च इंजन में ढूना गया कोई भी content सर्च इंजन  का वास्तविक रिज़ल्ट नहीं होता है। दुनिया में अलग अलग सर्च इंजन वैबसाइट की लिस्टिंग को अलग अलग तरह से दिखते हैं।

यदि आपने सर्च इंजिन में कुछ सर्च किया है और सर्च रिज़ल्ट के आगे ‘AD’ लिख कर आता है तो वो सर्च रिज़ल्ट नहीं है वो सर्च engine की paid listing होती है जो की सर्च इंजन के वास्तविक रिज़ल्ट से बिलकुल अलग होती है। यह सर्च इंजन Google या Bing पर किए गए advertisement होते हैं। जो सर्च इंजन की वास्तविक लिस्टिंग होती है उसे Organic सर्च कहते हैं। AD के लिस्टिंग के बाद समान्यतः organic सर्च रिज़ल्ट दिखाई देते हैं जिनकी एक पेज पर संख्या लगभग 10 होती है।

Organic सर्च में वैबसाइट लिस्ट के टाइटल समान्यतः नीले रंग से वैबसाइट का URL हरे रंग से और वैबसाइट का description काले रंग से दिखाई देता है। सर्च इंजन सिर्फ वैबसाइट की लिस्टिंग नहीं करता है वो कभी आपको विडियो की लिस्ट दिखाता है तो कभी कुछ लोकेशन मैप दिखाता है तो कभी कुछ समान की लिस्ट उनके मूल्य के साथ दिखाता है। और यह सब इस बात पर निर्भर करता है की सर्च query से संबन्धित क्या क्या चीज़ें हैं।

दोस्तों अगर आप यह समझ गए की सर्च इंजन कैसे रिज़ल्ट देखता है तो आप अपनी वैबसाइट को भी सर्च इंजन की लिस्ट में सामील कर सकते हैं।

Learn SEO in Hindi
Learn SEO in Hindi

3. SEO की रणनीति

दोस्तों SEO एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें हमें बहुत काम करना पड़ता है, बहुत टाइम लगता है और बहुत ही धीरज रखना होता है। इस पोस्ट में हम यह तो सीखेंगे की SEO कैसे करें पर उससे पहले यह सीखना जरूरी है कि SEO को इम्प्लेमेंट करने की रणनीति कैसे बनाए।

SEO अन्य मार्केटिंग की रणनीतियों से बिलकुल अलग है। तो इस लिए SEO implementation की रणनीति को समझना बहुत जरूरी हो जाता है। SEO एक long term process है जो हमें long term value प्रदान करता है। इसलिए धीरज बहुत जरूरी हो जाता है SEO implementation के लिए।

किसी भी सर्च इंजन जैसे Google पर अपनी वैबसाइट को पहले पेज पर लाना एक दिन में संभव नहीं है अगर आप ऐसा करते हैं तो यह सही तरीका नहीं हो सकता और जैसे ही सर्च इंजन आपके इस तरीके को जान जाएगा वो आपकी वैबसाइट हमेसा के लिए black list कर देगा और वो सर्च इंजन रिज़ल्ट में कभी नहीं आ पाएगी।

आपको SEO implement करने के लिए इन चीजों के लिए समय लेना चाहिए –

  • Develop Your Strategy
  • Research Keyword
  • Create Valuable Content because Content is the king
  • Attract Relevant Links
  • Resolve Technical issues

इसके बाद भी आपको अपनी वैबसाइट पर काम लगातार करना पड़ेगा क्योकि इंटरनेट पर आपके competitor भी हैं जो आपकी वैबसाइट से पहले आने को सोचते हैं। इसलिए हम यह कह सकते हैं कि SEO एक कभी न खत्म होने वाली प्रक्रिया है क्योकि सर्च इंजन अपनी Algorithm लगातार बदलते रहते हैं हूर हमे उस algorithm के अनुसार हमेसा अपनी वैबसाइट के SEO को बदलना पड़ेगा।

अपनी वैबसाइट पर SEO implement करने के दौरान जो सबसे महत्वपूर्ण चीज़ है वो यह है की आपको अपनी वैबसाइट के content को सर्च इंजन के अनुरूप तो बनाना है लेकिन आपको वह वैबसाइट प्रयोगकर्ता के अनुरूप भी हो। अन्यथा लोग आपकी वैबसाइट पर एक बार आने के बाद दूबरा नहीं आना पसंद करेंगे जिससे आपकी वैबसाइट का बाउन्स रेट बढ़ जाएगा और सर्च इंजिन आपकी वैबसाइट को कभी लिस्ट नहीं करेगा। क्योकि आप अपनी वैबसाइट का revenue अपने users के माध्यम से ही बढ़ा सकते हैं।

सीखें photoshop से आयुष्मान भारत के गोल्डेन कार्ड कैसे बनाएँ।

अतः आप यह कह सकते हैं की अगर आप अपनी वैबसाइट पर हमेसा relevant और informative इन्फॉर्मेशन का प्रयोग करें जो प्रयोगकर्ता को पसंद भी आए और उसके अनुरूप हो और इसके साथ वो सर्च इंजन के अनुरूप भी रहे तो आप लंबे समय तक सर्च इंजन के सर्च रिज़ल्ट में अपनी जगह बना सकते हैं।

Learn SEO in Hindi
Learn SEO in Hindi

4. SEO आपके व्यापार को कैसे प्रभावित करता है?

अगर आपका कोई व्यापार है तो SEO के लगातार प्रयोग के माध्यम से आप बहुत लाभ उठा सकते हैं। सर्च इंजन आपकी वैबसाइट को लिस्ट करने का कोई भी पैसा आपसे नहीं लेती है बस आपका कंटैंट सर्च इंजन के अनुरूप और relevant होना चाहिए।

सर्च इंजन को देखते हुये कहें तो यह एक फ्री technic है लेकिन वैबसाइट को SEO friendlily बनाने  के लिए आपको बहुत resource और समय लगता है, जिसमे आपका रुपया खर्च होता है। तो indirectly हम कह सकते हैं की SEO में भी आपका expense होता है। लेकिन अगर आप अपने खुद के लिए यह काम करते हैं तो आप एस खर्च को बचा सकते हैं।

एक बार आप अपनी वैबसाइट पर सही तरह से SEO implement कर लेते है तो बस आप यह समझ लीजिये की आपके पास बहुत अधिक लोग आपके प्रोडक्टस या सर्विसेस को लेने आएंगे और आपका बिज़नस रोज सफलता की नई उचाइयों को छुएगा।

Learn SEO in Hindi
Learn SEO in Hindi

आज सर्च इंजन के माध्यम से लोग बहुत कुछ वेब पर दूनते है जैसे अपना कोई प्रश्न, खरीदने के लिए कोई समान या सर्विसेस, खाने का स्थान एटीएम, खूमने की जगह और तो और अब अगर किसी को कोई समाचार भी ढूनना होता है तो भी लोग सर्च इंजन का प्रयोग प्रयोग करते हैं।

सर्च इंजन का प्रयोग अब सिर्फ आपके कम्प्यूटर तक ही नहीं सीमित रह गया है, अब इसका प्रयोग लोग अपने मोबाइल और टैबलेट से भी करने लगे हैं। मजे की बात तो यह ही की मोबाइल और टैबलेट के माध्यम से तो सर्च इंजन का प्रयोग और भी आसान हो गया है क्योकि आप इससे सिर्फ बोल कर (Voice assistance) भी बहूत कुछ ढून सकते हैं।

सर्च इंजन के माध्यम से आप अपने बिज़नस में बहुत ही लाभ उठा सकते हैं क्योकि आज किसी को भी कुछ भी ढूनना होता है तो वो सर्च इंजन का ही प्रयोग करता है। यदि आप अपने प्रॉडक्ट की वैबसाइट पर relevant और ज्ञानवर्धक जानकारी रखते है।

तो सर्च इंजन पर सर्च करने वाले लोग आपकी वैबसाइट पर आसानी से सर्च इंजन के माध्यम से आ जायेंगे और वो भी बिना कुछ खर्च किए हुये। जिससे आपके बिज़नस की income बहुत अधिक बढ़ सकती है।

Please subscribe my youtube channel.

तो दोस्तों मुझे पूरी उम्मीद है की आपको मेरा यह पोस्ट अच्छा लगा होगा। जिसमें मैंने पूरा प्रयास किया है की आपको SEO के बारे में पूरी जानकारी दे सकूँ। फिर भी अगर आपके मन में कोई भी प्रश्न या सुजाव हो तो आप मुझे मेरी मेल आईडी  praveen171086@gmail.com पर मेल करसकते हैं या नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *